जबकि इन्सान छोटा होकर भी अपनी हद भूल


Post a Comment

0 Comments