Anmol Vachan Images quotes in hindi 2018

अंधकार को दूर भागने के लिए कितने ही साधन जुटाए जाये,
कितनी ही तैयारियां की जाये,
जब तक प्रकाश फ़ैलाने का प्रयाश न किया जाये,
तब तक अंधकार बना ही रहेगा~~


Andhkar Ko Door Bhagane Ke Liye
Kitne he Sadhan Jutaye Jaye,
Kitni He Tyariyan Ki Jaye,
Jab Tak Prkash Failane Ka Pryash Na Kiya Jaye,
Tab Tak Andhkar Bana He Rahega

@जो व्यक्ति मेरे बुरे वक्त में मेरे साथ हैं…
उनके लिऐ मेरे पास एक ही शब्द है,
“मेरा अच्छा वक्त सिर्फ तुम्हारे लिए होगा@@@





Jo Viyakti Mere Bure Waqt Main Mere Sath Hai,
Unke Liye Mere Pass Ek He Sabda Hai,
“Mera Acha Waqt Sirf Tumhare Liye Hoga


उम्र भर कमाया पैसा खत्म हो सकता है
लेकिन जो दुआए…
इनकी सेवा करने से मिलेगी
वो कभी खत्म नही हो सकती…

Umra Bhar Kamaya Paisa Khatm Ho Sakta Hai,
Lekin Jo Duaye Inki Sewa Karne Se Milegi
Wo Kabhi Khatm Nahi Ho Sakti



किसी का किया एहसान कभी भूलो मत,
और अपना किया एहसान कभी याद मत करो!

Kisi Ka Kiya Ehsaan Kabhi Bhulo Mat,
Aur Apna Kiya Ehsaan Kabhi Yaad Mat Karo




Garibi Thi Jo Sabko Ek Anchal Main Sula Deti Thi,
Ab Amiri Aa Gai To Sabko Alag Alag Makan Chahiye.


चाहे सूखी रोटी ही क्यों न हो,
अपने श्राम से अर्जित भोजन से
मधुर और कुछ नही होता!


Chahe Sukhi Roti He Kyun Na Ho,
Apne Shram Se Arjit Bhojan Se
Madhur Aur Kuch Nahi Hota


संतुलित दिमाग के जैसी कोई सादगी नहीं हैं,
संतोष के जैसा कोई सुख नहीं हैं,
लोभ के जैसी कोई बीमारी नहीं हैं,
और दया के जैसा कोई पुण्य नहीं है।


Santulit Dimag Ke Jaisi Koi Sadgi Nahi Hai,
Santosh Ke Jaisa Koi Sukh Nahi Hai,
Lobh Ke Jaisi Koi Bimari Nahi Hai,
Aur….
Daya Ke Jaise Koi Puniya Nahi Hai…






Insan Makan Badalta Hai,
Vastra Badalta Hai, Sambandh Badalta Hai
Phir Bhi Dukhi Rehta Hai….
Kyunki Wah Apna Suwabhav Nahi Badalta


ये कफन, ये जनाजे, ये कब्र
सिर्फ बातें है मेरे दोस्त,
वरना मर तो इंसान तभी जाता है
जब उसे याद करने वाला कोई ना हो! ~ अनमोल वचन


Ye Kafan, Ye Janaze, Ye Kabra
Sirf Baatein Hai Mere Dost,
Warna Mar To Insaan Tabhi Jata Hai
Jab Use Yaad Karne Wala Koi Na Ho


सबसे बड़ी बाधा – अधिक बोलना!
सबसे बड़ा पाप – भय
सबसे खतरनाक – घृणा
सबसे बुरी भावना – इष्र्या
सबसे बड़ी भूल – समय की बर्बादी
विश्वसनीय मित्र – अपना हाथ
कभी न वापस मिलने वाला – खोया सम्मान


Sabse Badi Badha – Adhik Bolna
Sabse Bada Paap – Bhaye
Sabse Khatarnak – Grna
Sabse Buri Bhavna – Irshya
Sabse Badi Bhul – Samye Ki Barbadi
Viswasniya Mitra – Apna Hath
Kabhi Na Wapis Milne Wala


पानी की एक बूंद गर्म तवे पर पड़े तो मिट जाती है,
कमल के पत्ते पर गिरे तो मोती की तरह चमकने लगती है,
शिप में आये तो खुद मोती सी बन जाती है
पानी की बून्द तो वही है, बस संगत का फर्क है!!


Pani Ki Ek Bund Garam Tawe Par Pade To Mit Jati Hai,
Kamal Ke Patte Par Gire To Moti Ki Tarah Chamakne Lagti Hai,
Ship Mein Aaye To Khud Moti Si Ban Jati Hai
Pani Ki Bund To Wahi Hai, Bas Sangat Ka Fark Hai


भय को नजदीक न आने दो
अगर यह नजदीक आये तो
इस पर हमाला कर दो
यानी भय से भागो मत
इसका सामना करों – आचार्य चाणक्‍य


Bhay Ko Najdik Na Aane Do,
Agar Yah Najdik Aaye To,
Is Par Hamla Kar Do,
Yani Bhaye Se Bhago Mat
Iska Samna Karo
ये जरूरी तो नहीं कि इंसान हर रोज मंदिर जाए.. बल्कि
कर्म ऐसे होने चाहिए की इंसान जहाॅ भी जाए मंदिर वहीं बन जाए!!


Ye Jaruri To Nahi Ki Insaan Har Roj Mandir Jaye
Balki… Karma Aise Hona Chahiye Ki Insaan
Jahan Bhi Jaye Mandir Wahi Ban Jaye


आपके विचार आपके
व्यक्तित्व @पर प्रभाव डालते है, उन्हें शुद्ध रखें!

Aapke Vichar Apke Viyaktitv Par
Prbhav Dalte Hai… Unhe Suddh Rakkh



कुछ लोग अपनी दुर्बलताओं को समझ ही नहीं पाते,
कोई समझाए तो उसे दोषी और शत्रु मानकर उसे बुरा-भला कहते है
और लड़ने को तैयार हो जाते है। अपनी कमजोरियों के कारण मिली
असफलता को वे @दूसरों@@ के सर थोपकर स्वयं निर्दोष बनना चाहते है



अपनी प्रशंसा, आप न करें…
यह कार्य आपके सत्कर्म स्वयं करा लेंगे ~ अनमोल वचन


Apni Prashansa, Aap Na Kare
Yah Kariya Apke Satkarm
Swayam Kara Lenge



मनुष्य अपने भाग्य का
निर्माता खुद होता है..!!


Manushya A@pne Bhagya Ka
Nirmata Khud Hota Hai


जो@ वर्तमान की उपेक्षा करता है
वह अपना सब कुछ खो देता है!!


Jo Vartman Ki Upekcha Karta Hai
Wah Apna Sab Kuch Kho Deta Hai



कठिनाइयों में ही
सिद्धांतो की परीक्षा होती है!!


Kathinaiyon Mein He Sidhanton Ki
Pariksha Hoti Hai


इंसान मकान बदलता है,
वस्त्र बदलता है, संबंध बदलता है,
फिर भी दुःखी रहता है,
क्योकि वह अपना स्वभाव नहीं बदलता@@@@@

@दूसरों की परेशानी का आनंद ना लें!
कही भगवान आपको वही गिफ्ट ना कर दें!!
क्योंकि भगवान वही देता है,
जिसमें आपको आनंद मिलता है!

Dusron Ki Pareshani Ka Anand Na Le,
Kahi Bhagwan Aapko Wahi Gift Na Kar Dein!!
Kyunki Bhagwan Wahi Deta Hai…
Jismein Aapko Anand Milta Hai

गंदगी तो, पैसे वालो ने फैलाई है!
वरना
गरीब तो, सड़को से थैलियाॅं तक उठा लेते है…!


Gandagi To, Paise Walon Ne Failai Hai…
Warna,
Gareeb To, Sadako Se Thailiya Tak Utha Lete Hai!


जरूरी नहीं की कुछ तोड़ने के लिए,
पत्थर ही मारा जाए…!!
लहजा बदल कर बोलने से भी,
बहुत कुछ टूट जाता है…!!


Jaruri Nahi Ki Kuch Todne Ke Liye,
Patthar He Mara Jaye..!!
.
.
Lahza Badal Kar Boolne Se Bhi,
Bahut Kuch Tut Jata Hai.


कबर की मिट्टी हाथ में लिए
सोच रहा हॅू, कि लोग मरते है तो
गुरूर कहां जाता है??


Kabar Ki Mitti Hath Main Liye,
Soch Raha Hun, Ki Log Marte Hai To,
Guroor Kahan Jata Hai..


सिर्फ पूजा-हवन से भगवान नहीं मिला करते,
भगवान की प्राप्ति के लिए मन में दयाभाव व
इंसानों के प्रति करूणा, विनम्रता भी होनी चाहिए!


Sirf Pooja Hawan Se Bhagwan Nahi Mila Karte,
Bhagwaan Ki Praprti Ke Liye Man Main…
Daya Bhav Va Insanon Ke Prati Karuna,
Vinamrta Bhi Honi Chahiye…



बातों से बात नहीं बनती,
कुछ अमल भी कमाना पड़ता है!!
सिर का झुक जाना काफी नहीं,
मन को भी झुकाना पड़ता है!!


Baaton Se Baat Nahi Banti,
Kuch Amal Bhi Kamana Padta Hai,
Sir Ka Jhuk Jana Kafi Nahi,
Man Ko Bhi Jhukana Padta Hai


गरीबी थी जो सबको एक आंचल में सुला देती थी,
अब अमीरी आ गई तो सबको अलग मकान चाहिए…!!
जरूरी नहीं रोशनी चिरागों से ही हो,
बेटियाॅं भी घर में उजाला करती है…


Jaruri Nahi Roshni Chiragoin Se He Ho,
Betiya Bhi ghar Main Ujala Karti Hai


गिरना अच्छा है औकात पता चलती है,
थामने वाले कितने हाथ है, यह बात पता चलती है।

Girna Accha Hai…
Aukat Pata Chalti Hai,
Thamne Wale Kitne Hath Hai,
Yah Baat Pata Chalti Hai…


मैं सब कुछ और तू कुछ नहीं!!
बस यही सोच…
हमें इंसान बनने नहीं देती.!!


Main Sab Kuch Aur Tu Kuch Nahi!!
Bas Yahi Soch…
Humein Insaan Banne Nahi Deti


हर बेटी के भाग्य में पिता होता है,
पर हर पिता के भाग्य में, बेटी नही होती…!!

Har Beti Ke Bhagya Main Pita Hota Hai,
Par Har Pita Ke Bhagya Main, Beti Nahi Hoti


परिश्रम ही जीवन है और सुस्ती ही बीमारी है
शरीर के हर एक हिस्से का जीवन इसी में हैं
कि आपने कार्य की पूर्ति करता रहे!!


Parishram He Jeevan Hai Aur Susti Hi Bimari Hai
Sharir Ke Har Ek Hisse Ka Jeevan Isi Main Hai
Ki Apne Kariyon Ki Purti Karta Rahe



जो लोग दर्द को समझते है…
वो लोग कभी भी दर्द की वजह नहीं बनते!

Jo Log Dard Ko Samjhte Hai
Wo Log Kabhi Bhi Dard Ki Wajah Nahi Bante


जो खुद ही अपना मालिक है
वह दूसरों का भी बन जायेगा…!!

Jo Khud He Apna Malik Hai
Wah Dusron Ka Bhi Ban Jayega


सार्थक और प्रभावी
उपदेश वह है जो वाणी से नहीं,
अपने आचरण से प्रस्तुत किया जाता है!!

Sarthak Aur Prabhavi
Updesh Wah Hai Jo Vani Se Nahi,
Apne Aacharan Se Prstut Kiya Jata Hai!


मनुष्य के विचार ही…
मनुष्य को सुखी या दुखी बनते है!!


Manushya Ke Vichar…
Manushya Ko Sukhi Ya Dukhi Bante Hai


उपलब्धियां इस संसार मैं भरी पड़ी है
पर उन्हें प्राप्त करने के लिए…
ज्ञान, चरित्र और सहस चाहिए…!!


Uplabdhiya Is Sansar Main Bhari Padi Hai
Par Unhe Prapt Karne Ke Liye…
Gyan, Charitra Aur Sahas Chahiye


जंग अगर अपनों से हो तो..
हारने में ही जीत होती है!

Jang Agar Apno Se Ho To..
Harne Main He Jeet Hoti Hai


झूठ बोलने में सबसे बड़ी परेशानी यह है कि
झूठ याद रखने पड़ते है…!!

Jhoot Boolne Main Sabse Badi
Pareshani Yah Hai Ki Jhooth Yaad
Rakhne Padte Hai


जब लोग किसी को पसंद करते है
तो उसकी बुराईयां भूल जाते है
और जब किसी से नफरत करते है
तो उसकी अच्छाईयां भूल जाते है

Anmol Vachan Quotes
Jab Log Kisi Ko Pasand Karte Hai
To Uski Buraiya Bhul Jate Hai
Aur Jab Kisi Se Nafrat Karte Hai
To Uski Acchaiya Bhul Jate Hai


सुविचार
कदर करनी है तो जीते जी करो
अर्थी उठाते वक्त तो नफरत करने वाले भी रो पड़ते है…

Suvichar Quotes
Kadar Karni Hai To Jeete Jee Karo
Arthi Uthate Waqt To Nafrat Karne Wale
Bhi Ro Padte Hai


जो प्राप्त है, वो पर्याप्त है!!
इन दो शब्दों में… सुख बेहिसाब है…!!


Jo Prapt Hai, Woh Paryapt Hai…
In Do Sabdon Mein… Sukh Behisab Hai


काश ये बात लोग समझ जाये की
रिश्ते एक दूसरे का ख्याल
रखने के लिये बनाये जाते है
एक दूसरे का इस्तेमाल करने के लिए नहीं!!


…::Suvichar::…
Kash Ye Baat Log Samjh Jaye Ki
Rishte Ek Dusre Ka Khayal Rakhne
Ke Liye Banaye Jate Hai…
Ek Dusre Ka Istemal Karne Ke Liye Nahi









Post a Comment

1 Comments