Chanakya Quotesसुविचार हिंदी में 2018


  1. @प्रशंसा से बचो@@@
  2. यह आपके व्यक्तित्व की
  3. अच्छाइयों को घुन की
  4. तरह चाट जाती है! – चाणक्य
  5. Prshansa Se Bacho,
  6. Ye Aapke Viyaktitva Ki,
  7. Acchaiyo Ko Ghun Ki Tarah Chat Jati Hai!
  8. ~ @@@Chanakya@@@



  9. @कोई भी काम शुरू करने पे पहले खुद से तीन सवाल जरूर पूछें।
  10. मैं ऐसा क्‍यों करने जा रहा हूँ ?
  11. इसका क्‍या परिणाम होगा ?
  12. क्‍या मैं सफल रहूंगा ?
  13. Koi Bhi Kaam Suru Karne Se Pahile
  14. Khud Se 3 Sawal Jarur Puche:-
  15. “Main Aisa Kyo Karne Jaa Raha Hun?
  16. Iska Kya Parinaam Hoga ?
  17. Kya Mein Safal Rahuga


  18. जिन लोगों में लज्जा का गुण न हो,
  19. जो किसी भी गलत कार्य को करने में
  20. संकोच न करें और जो लज्जा हीन हो,
  21. उनसे मित्रता नहीं करनी चाहिए! ~ @@@@चाणक्य के अनमोल विचार
  22. Jin Logo Main Lajja Ka Gun Na Ho@@@
  23. Jo Kisi Bhi Galat Kaam Ko Karne Main
  24. Sankoch Na Kare Aur Jo Lajja Hin Ho,
  25. Unse Dosti Nahi Karni Chahiye.. ~ Chanakya


  26. @@@कामयाब होने के लिए अच्छे मित्रों की जरूरत होती है
  27. और
  28. ज्यादा कामयाब होने के लिए अच्छे शत्रुओं की आवश्यकता होती है! ~ चाणक्य
  29. Kamyab Hone Ke Liye Acche Mitron Ki Jarurt Hoti Hai@@@
  30. Aur…
  31. Jyda Kamyab Hone Ke Liye Acche Satrun Ki Avashaykta Hoti Hai


  32. असंभव शब्द का प्रयोग केवल कायर ही करते है
  33. बहादुर और बुद्धिमान व्यक्ति आपना मार्ग स्वयं बनाते है! – चाणक्य
  34. Asambhav Shabda Ka Pryog Kewal Kayar He Karte Hai
  35. Bahaddur Aur Buddhiman Viyakti Apna Marg Khud Banate Hai
  36. ~Chanakya Sayings


  37. यदि आप प्रयास करने के बाद भी असफल हो जाऐं तो भी
  38. उस व्यक्ति से हर हाल में बेहतर होंगे जिसको
  39. बिना किसी प्रयास के सफलता मिल गई हो! – चाणक्य
  40. Yadi Aap Pryash Karne Ke Baad Bhi Asfaal Ho Jaye To
  41. Bhi Us Viyakti Se Har Haal Main Behtaar Honge
  42. Jisko Bina Kisi Pryash Ke Safalta Mil Gai Ho..!!
  43. ~Chanakya Sayings


  44. @@जो तुम्हारी बात सुनते हुए…
  45. इधर-उधर देखे उस पर कभी विश्वास न करो
  46. – @@@चाणक्य
  47. Jo Tumhari Baat Sunte Huye
  48. Idhar- Udhar Dekhe Us Par Kabhi
  49. Vishwas Na Karo@@@@Chanakya Sayings


  50. @हर मित्रता के पीछे कोई न कोई स्वार्थ होता है
  51. ऐसी कोई भी मित्रता नही जिसके पीछे स्वार्थ न छिपा हो!!
  52. यह जीवन का एक कड़वा सच है – चाणक्य
  53. Har Mitrta Ke Peeche Koi Na Koi Swarth Hota Hai!
  54. Aise Koi Bhi Mitrta Nahi Jiske Peeche Swarth Na Chipa Ho
  55. Yah Jeevan Ka Ek Kadwa Sach Hai


  56. फूलों की सुगंध केवल वायु की दिशा में फैलती है
  57. पर एक व्यक्ति की अच्छाई हर दिशा में फैलती है -चाणक्य
  58. Phoolon Ki Sugandh Kewal Hawa Ki Disha Main Failti Hai
  59. Par Ek Viyakti Ki Acchai Har Disha Main Failti Hai


  60. ष्टों और कांटों से बचने के केवल दो ही उपाय है
  61. जूतों से उन्हें कुचल डालना या उनसे दूर रहना ~ चाणक्य
  62. Duston Aur Kanton Se Bachne Ke
  63. Kewal 2 He Upaye Hai…
  64. Jhuton Se Unhe Kuchal Dalna Ya
  65. Unse Door Rahna


  66. ###गुणों से मानवता की पहचान होती है!
  67. ऊँचे सिंहासन पर बैठने से नहीं…
  68. महल के उच्च शिखर  पर बैठने के
  69. बावजूद कवा का गरुड़ होना असंभव है####

  70. G@uno Se Manavta Ki Pahichan Hoti Hai
  71. Uche Sihasan Par Baithne Se Nahi…
  72. Mahal Ke Ucch Sikhar Par Baithne Ke
  73. Bawajood Kawa Ka Garud Hona Asambhav Hai



  74. #समझदार व्यक्ति को दूसरों के बल पर साहस
  75. नहीं करना चाहिए ~ चाणक्य
  76. Samajhdar Viyakti Ko Dusron Ke Baal Par
  77. Sahas Nahi Karna Chahiy###


  78. ##दूसरो की गलतियों से सीखो
  79. अपने ही ऊपर प्रयोग करके
  80. सीखने में तुम्हारी उम्र कम पड़ेगी####चाणक्य
  81. Dusron Ki Galtiyon Se Sikho..
  82. Apne He Upar Pryog Karke
  83. Sikhne Main Tumhari Umra Kam Padegi###

Post a Comment

0 Comments