Gila Shikwa Shayari Hindi Textशायरी


  1. दिल से दूर जिन्हें हम कर ना सके;
  2. पास भी उन्हें हम कभी पा ना सके;
  3. मिटा दिया प्यार जिसने हमारे दिल से;
  4. हम उनका नाम# लिख कर भी मिटा ना सके।



  5. मैंने रब से कहा वो छोड़ के चली गई;
  6. पता नहीं उसकी क्या मजबूरी थी;
  7. रब ने कहा इसमें उसका कोई कसूर नहीं;
  8. यह कहानी तो मैं#ने लिखी ही अधूरी थी।



  9. तुझे मोहब्बत करना नहीं आता;
  10. मुझे मोहब्बत के सिवा कुछ आता नहीं;
  11. ज़िंदगी गुज़ार#ने के दो ही तरीके हैं;
  12. एक तुझे नहीं आता, एक मुझे नहीं आता!


  13.  

  14. कोई जुदा हो गया कोई ख़फ़ा हो गया;
  15. यह दुनिया के लोगों को क्या हो गया;
  16. जिस सजदे में मुझे उस को माँगना था रब से;
  17. अफ़सोस वही सजदा क़ज़ा हो गया।



  18. एक ग़ज़ल तेरे लिए ज़रूर लिखूंगा;
  19. बे-हिसाब उस में तेरा कसूर लिखूंगा;
  20. टूट गए बचपन के तेरे सारे खिलौने;
  21. अब दिलों से #खेलना तेरा दस्तूर लिखूंगा।



  22. वो रास्ते में पलटा तो रुक गया मैं भी;
  23. फिर कदम, कदम न रहे, सफर, सफर न रहा;
  24. नज़रों से गिराया उसको कुछ इस तरह हम ने;
  25. कि वो खुद अ#पनी नज़रों में मुताबिर न रहा।



  26. सपना हैं आँखों में मगर नींद नहीं है;
  27. दिल तो है जि#स्म में मगर धड़कन नहीं है;
  28. कैसे बयाँ करें हम अपना हाल-ए-दिल;
  29. जी तो रहें हैं मगर ये ज़िंदगी नहीं है।



  30. ज़िंदगी हमारी यूँ सितम हो गयी;
  31. ख़ुशी ना जा#ने कहाँ दफ़न हो गयी;
  32. बहुत लिखी खुदा ने लोगों की मोहब्बत;
  33. जब आयी हमारी बारी तो स्याही ही ख़त्म हो गयी।



  34. जब प्या#र नहीं है तो भुला क्यों नहीं देते;
  35. ख़त किसलिए रखे हैं जला क्यों नहीं देते;
  36. किस वास्ते लिखा है हथेली पे मेरा नाम;
  37. मैं हर्फ़ ग़लत हूँ तो मिटा क्यों नहीं देते।



  38. मोहब्बत का मेरा यह सफर आख़िरी है;
  39. ये कागज, ये कलम, ये गजल आख़िरी है;
  40. फिर ना मिलेंगे अब तुमसे हम कभी;
  41. क्योंकि तेरे दर्द का अब ये सितम आख़िरी है।



  42. दिल से# रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे!
  43. यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे!
  44. वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का!
  45. और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!



  46. मो#हब्बत नहीं है कोई किताबों की बाते!
  47. समझोगे जब रो कर कुछ काटोगे रातें!
  48. जो चोरी हो गया तो पता चला दिल था हमारा!
  49. करते थे हम भी कभी किताबों की बाते!



  50. इंतज़ार करते करते वक़्त क्यों गुजरता नहीं!
  51. सब हैं यहाँ मगर कोई अपना नहीं!
  52. दूर नहीं पर फिर भी वो पास नहीं!
  53. है दिल में कहीं पर आँखों से दूर कहीं!



  54. ##हर शाम कह जाती है एक कहानी !
  55. हर सुबह ले आती है एक नई कहानी !
  56. रास्ते तो बदलते है हर दिन लेकिन !
  57. मंजिल रह जाती है वही पुरानी !



  58. ##भूल गए या, भुलाना चाहते हो?
  59. दूर कर दिया, या जाना चाहते हो?
  60. आजमा लिया, या आजमाना चाहते हो?
  61. मैसेज कर रहे हो या अभी और पैसे बचाना चाहते हो######



  62. ##नज़र चाहती है दीदार करना;
  63. दिल चाहता है प्यार करना;
  64. क्या बतायें इस दिल का आलम;
  65. नसीब में लिखा है इंतजार करना###

Post a Comment

0 Comments